कल 10 बजे फिर पीएम मोदी को करेगे संबोधित,मिल सकती है ये सब छूटें.

भारत में कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों की संख्या धीरे-धीरे रोज बढ़ते ही जा रही है।अभी संक्रमित मरीजों की संख्या भारत में 9000 के पार हो गई है। इस वायरस के प्रसार को रोकने के लिए ही प्रधानमंत्री मोदी जी ने कुछ दिन पहले 21 दिनों के योगदान का ऐलान किया था जो कि 14 अप्रैल को खत्म होने जा रहा है।

मंगलवार को 10 बजे फिर से राष्ट्र को करेंगे संबोधित

इसलिए कल प्रधानमंत्री जी फिर से राष्ट्र को संबोधित करने वाले हैं।ऐसे लॉकडाउन का बढ़ना लगभग तय माना जा रहा है।इस दूसरे फेज को लॉक डाउन मे कुछ छूट मिल सकती हैं।आज प्रधानमंत्री कार्यालय ने ट्वीट करके इस बात की जानकारी दी है कि मंगलवार को 10 बजे प्रधानमंत्री मोदी जी फिर से राष्ट्र को संबोधित करेंगे।

चौथी बार करेगे संबोधित

बता दें कि यह चौथा बार होगा जब पीएम मोदी कोरोना वायरस के मामले पर राष्ट्र को संबोधित करेंगे। सबसे पहले उन्होंने 22 मार्च को जनता कर्फ्यू लगाने के लिए संबोधित किया था इसके बाद 21 दिनों के लॉकडाउन    बात को लेकर फिर दिया जलाने के लिए उन्होंने राष्ट्र को संबोधित किया था।

मुख्यमंत्रियों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से बात हो चुकी है

शनिवार को प्रधानमंत्री मोदी जी ने मुख्यमंत्रियों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से बात की थी इस बातचीत में यह बात निकलकर आई थी कि अभी 2 हफ्ते तक और लॉकडाउन को बढ़ा दिया जाए यानी इस महीने पूरे लॉक डाउन की बात काही गयी थी।हो सकता है प्रधानमंत्री जी मोदी जी इस बात का ऐलान करें।

ये सारी छूट मिल सकती है

एक दूसरी बात भी अनुमान लगाई जा रही है कि इस दूसरे फेज के लॉकडाउन में लोगों को कुछ छूट भी मिल सकती है ताकि गिरती हुई अर्थव्यवस्था में भी जान डाला जा सके। मोदी जी बोल चुके हैं कि ‘जान भी जहान भी’। इससे अनुमान लगाया जा रहा है कि कोरोनावायरस से संक्रमण से लोगों को बचाते हुए उनकी अजीबीका का भी इस बार ध्यान दिया जाएगा।हो सकता है लॉक डाउन चरण बद्ध  तरीके से हटाया जाए।

केंद्रीय मंत्री के अधिकारी काम पर लौटे

लॉक डाउन के 20वे दिन यानी कि आज के सभी केंद्रीय मंत्री के अधिकारी अब काम पर लौट चुके हैं। सूत्रों से पता चला है कि इस लॉक डाउन के दूसरे फेज में कारखानों माल ढुलाही किसानो  आदि में छूट मिल सकती है।परंतु उन इलाकों को इन छूटो से दूर रखा जाएगा जहां अभी कोरोना के मामले काफी सक्रिय हैं यानी कि हॉटस्पॉट इलाकों को इस तरह के छूट से बिल्कुल ही दूर रखा जाएगा।बता दें कि अभी पश्चिम बंगाल उड़ीसा तेलंगाना और महाराष्ट्र ने अपने यहां लॉक डाउन को 30 अप्रैल तक बढ़ा दिया है वहीं पंजाब ने 1 मई तक लॉक डाउन राज्य सरकार ने खुद बढ़ा दिया है।