अब खुलेगी कॉल करने वाले की पोल: बिना ट्रू कॉलर नंबर के साथ दिखेगा नाम, TRAI लाएगा नया फीचर

अब तक आप किसी भी अनजान नंबर से आई हुई कॉल की जानकारी ट्रूकॉलर (Truecaller) पर नंबर डाल कर लेते हैं। इस कड़ी में आपको और अच्छी सुविधा देने के लिए टेलीकॉम रेगुलेटर ट्राई (Telecom Regulatory Authority of India) एक ऐसे ही मेकनिज्म पर काम कर रही है, जिसकी मदद से आप किसी भी नंबर से आए फोन के कॉलर (Caller Name Of Phone Screen) के नाम की जानकारी उसके सिम पर कराए गए केवाईसी (KYC) वाले नाम से पता लगा सकते हैं। कैसे आइए हम आपको डिटेल में बताते हैं।

Moot Mechanism For KYC

अब लगेगा असली कॉलर के नाम का पत्ता

दरअसल इन दिनों अगर आपके पास कोई कॉल आता है तो स्क्रीन पर सिर्फ उसका नंबर लिख आता है, लेकिन ट्राई यानी टेलीकॉम रेगुलेटर कंपनी आपको इस पर एक नया सुविधाजनक ऐप देने में जुटी हुई है, जिसकी मदद से आप उस नंबर के यूजर के असल केवाईसी करवाने वाले शख्स का नाम आसानी से जान सकेंगे। फिलहाल ट्राई इसके फ्रेमवर्क को फाइनल करने में जुटी हुई है।

Moot Mechanism For KYC

बता दे ट्राई के इस फीचर में काफी हद तक ट्रूकॉलर की तरह ही काम नजर आएगा। दूरसंचार विभाग ने इस पर काम करना शुरू कर दिया है। अपने इस काम को लेकर ट्राई के चेयरमैन पीडी वाघेला का कहना है कि इस पर कंसल्टेशन अगले महीने से शुरू हो जाएगा। फिलहाल हमें इस पर एक रेफरेंस मिला है और जल्द ही हम इस पर काम शुरू कर देंगे। ट्राई पहले से ही इस तरह के मेकनिज्म पर विचार करने का मन बना रहा था, लेकिन दूरसंचार विभाग के रेफरेंस मिलने का इंतजार था।

Moot Mechanism For KYC

इस नए फीचर को लेकर पीडी वाघेला ने बताया कि इसके जरिये यूजर्स फर्जी कॉल करने वालों से बेहद आसानी से बच सकेंगे। रिपोर्ट के मुताबिक फ्रेमवर्क पूरा करने के बाद ही इस फीचर को लेकर ट्राई क्लियर हो पायेगा। मालूम हो कि ट्रूकॉलर जैसे कॉलिंग एप इस तरह के फीचर्स मुहैया कराते हैं, लेकिन इसमें केवाईसी नाम नजर नहीं आता। ऐसे में एक्सपर्ट के मुताबिक इस फीचर के आने से स्पैम और फ्रॉड कॉल्स के बढ़ते मामलों में काफी कमी आएगी।