ये हैं निर्भया केस के वकील सीमा जिन्होंने 7 साल तक मुफ्त में ही लड़ा निर्भया का केस

आज सुबह 5:30 बजे निर्भया के दोषियों को फांसी पर चढ़ जाने के बाद निर्भया को इंसाफ मिल गया। उनके इंसाफ दिलाने में उनकी सबसे ज्यादाबड़ी भूमिका उनकी मां और कोर्ट के अंदर केस लड़ने वाली उनकी वकील सीमा समृद्धि कुशवाहा का है।आइए जानते हैं सीमा कुशवाहा कैसे जुड़े इस केस में और कौन है सीमा कुशवाहा।

इस तरह से मिली निर्भया के मां से

जब निर्भया के साथ 2014 में यह घटना घटी थी तो उस समय दिल्ली के राष्ट्रपति भवन के सामने बहुत ही प्रदर्शन हुआ था। प्रदर्शन करने वाले दिल्ली के सारे लोगों ने यह ठान लिया था कि निर्भया के दोषियों को बिना फांसी दिलवाए वह नहीं मानने वाले।

इसी दौरान सीमा कुशवाहा निर्भया के मां से मिली थी और उन्होंने निर्भया का केस लड़ने का इच्छा जताई थी। उन्होंने यह केस बिना कोई फीस लिए हुए लड़ने का बात भी कही थी।

कौन है सीमा कुशवाहा

Image source google

सीमा कुशवाहा दिल्ली विश्वविद्यालय की लॉं है। सीमा कुशवाहा का यह पहला केस है। सीमा कुशवाहा दिल्ली विश्वविद्यालय से वकालत की पढ़ाई कर रही है। वह अभी बलात्कार की घटनाओं से ट्रेनिंग कर रही है।

उन्होंने निर्भया का केस लड़ने का ही इच्छा जताई थी।उनके मन में थोड़ा भी यह डर नहीं था कि यह उनका पहला केस है और इसमें वह जीत पाएंगे या नहीं।वह बस सच्चाई का साथ देना चाहते थे।

सीमा कुशवाहा एक ट्रस्ट से भी जुड़ी हुई है जो बलात्कार पीड़ितों को कानूनी सलाह देती है और वह इस सलाह का कोई फीस भी नहीं लेती है.

एक इंटरव्यू के दौरान उन्होंने यह भी बताया कि वर्तमान में हुआ अभी सुप्रीम कोर्ट में एक प्रैक्टिस  लायर है। सीमा कुशवाहा ने आईएएस बनने की भी इच्छा जताई थी।उन्होंने बताया कि वह अभी यूपीएससी की तैयारी कर रही है।

केस जीतने पर आज  निर्भया के मां ने सीमा कुशवाहा को धन्यवाद किया।बोली आपने ने मेरी बेटी को इंसाफ दिलाया।