The Kashmir Files पर महिला का खुलासा- ‘चावल के ड्रम में जिन्हें गोलियों से भूना गया, वो मेरे चाचा’

विवेक अग्निहोत्री (Vivek Aganihotri) की फिल्म द कश्मीर फाइल्स (The Kashmir Files) इन दिनों हर जगह चर्चाओं में छाई हुई है। इस फिल्म ने बॉक्स ऑफिस पर कई रिकॉर्ड तोड़ते हुए जबरदस्त कमाई (The Kashmir Files Collection) भी की है। रिलीज के दूसरे हफ्ते भी सिनेमा हॉल हाउसफुल है। द कश्मीर फाइल्स साल 1990 में हुई कश्मीर की असल घटना पर आधारित फिल्म है। इस फिल्म में कई ऐसे सीन (The Kashmir File Scene) है, जिन्हें देखकर किसी भी इंसान के रोंगटे खड़े हो जाएंगे। तो वहीं कई ऐसी रुला देने वाली और झकझोर देने वाली घटनाएं भी सामने आई है, जिन्होंने हर किसी को हैरान कर दिया है। फिल्म में एक सीन है जिसमें एक शख्स को अनाज के ड्रम में गोलियों से भून दिया जाता है। इस सीन को देखने के बाद हर किसी के रोंगटे खड़े हो गए हैं।

The Kashmir Files

बालकृष्ण गंजू की भतीजी की भतीजी का खुलासा

द कश्मीर फाइल्स की रिलीज के बाद एक पीड़िता सामने आई है, जो इस फिल्म की कहानी से सीधे तौर पर जुड़ी हुई है। इस पीड़िता ने बताया कि वह उन्हीं दूरसंचार अधिकारी बालकृष्ण गंजू की भतीजी है, जिन्हें चावल के ड्रम में गोलियों से भून दिया गया था। बालकृष्ण गंजू की भतीजी इन दिनों अमेरिका में रह रही है। उन्होंने इस घटना को लेकर हाल ही में खुलकर बात की और कई चौका देने वाले खुलासे किए।

The Kashmir Files

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक उन्होंने इस घटना का जिक्र करते हुए यह खुलासा किया कि- चावल के ड्रम में जिन्हें गोली मारी गई, वह मेरे चाचा थे। उन्हें गोलियों से भून दिया गया था। कश्मीर फाइल्स में इस सीन को दिखाया गया है। बता दें जब जब कश्मीर फाइल रिलीज हुई, यह तभी से लगातार अलग-अलग वजहों से चर्चा में रही है। वहीं इन दिनों इस फिल्म को कई राज्यों में टैक्स फ्री कर दिया गया है, तो कई राज्यों में इस फिल्म को लेकर राजनीतिक घमासान जारी है।

The Kashmir Files

जारी है द कश्मीर फाइल्स का धमासान

इतना ही नहीं इस फिल्म को लेकर राजस्थान के कोटा में तो 22 मार्च से 21 अप्रैल तक के लिए धारा 144 लागू कर दी गई है। दरअसल जिला मजिस्ट्रेट और कोटा के जिला कलेक्ट्रेट ने यह आदेश जारी किया है, जिसे लेकर फिल्म के निर्देशक विवेक अग्निहोत्री ने कड़ा विरोध जताया है। उन्होंने राज्य के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और सूचना एवं प्रसारण मंत्री अनुराग ठाकुर से इस मामले में दखल देने की अपील भी की है। इसके अलावा कई राज्यों में इस फिल्म को टैक्स फ्री कर दिया गया है, तो कई राज्यों में इस फिल्म के लिए स्पेशल स्क्रीनिंग भी की जा रही है।