राखी सावंत का मजाक उनपर ही पड़ा भारी, आदिवासियों के प्रमुख संगठन ने दर्ज कराया FIR

बॉलीवुड में ड्रामा क्वीन के नाम से मशहूर राखी सावंत (Rakhi Sawant) आये दिन किसी न किसी वजह से सुर्खियों में बनी रहती हैं। उन्हें अक्सर लोगों के बीच ऐसे बयान देते हुए देखा गया है जिसके कारण उन्हें मुश्किलों का सामना करना पड़ता है। वही अब राखी सावंत का एक मजाक उनपर ही भारी पड़ गया है। जी हां, दरअसल हाल ही में उन्होंने आदिवासी कपड़ों को लेकर मजाक उड़ाया था जिसके बाद अब उनका ये मजाक भारी पड़ गया है। खबरों के मुताबिक राखी के खिलाफ झारखंड में आदिवासियों के प्रमुख संगठन केंद्रीय सरना समिति ने रांची के एससी-एसटी थाने में FIR दर्ज कराया है।

Rakhi sawant

सरना समिति ने दिया बयान :-

समिति ने अपनी शिकायत में कहा है, ‘राखी सावंत (Rakhi Sawant) ने भद्दे पोशाक में अपना एक वीडियो शूट कराया है और उसे अलग-अलग प्लेटफॉर्म पर जारी करते हुए इसे आदिवासी पोशाक बताया है। यह आदिवासियों की संस्कृति को बदनाम करने को सोची-समझी साजिश है।’ इतना ही नही केंद्रीय सरना समिति के अध्यक्ष अजय तिर्की (Ajay Tirki) ने भी अपना एक बयान जारी किया है। उन्होंने अपनी बात रखते हुए कहा है, ‘आदिवासी समाज की अपनी गरिमामयी परंपराएं हैं। राखी सावंत बेली डांस के लिए जिस तरह के पोशाक पहनकर भद्दा प्रदर्शन करते हुए इसे आदिवासी समाज से जोड़ रही हैं, वह ना केवल घोर आपत्तिजनक है बल्कि आदिवासी समाज के लोग उनकी हरकत से अपमानित महसूस कर रहे हैं। हमने उनके खिलाफ एफआईआर दर्ज कराते हुए उनपर कानूनी कार्रवाई की गुहार लगाई है।’

Rakhi sawant

कई विवादों से जुड़ चुका है राखी का नाम :-

आपको बतादें कि केंद्रीय सरना समिति का कहना है कि वह इसे लेकर केंद्र सरकार और राज्य सरकार को पत्र लिखेगी। वही समिति के अध्यक्ष अजय तिर्की ने कहा है, ‘इस मुद्दे पर हम केंद्रीय जनजातीय कार्य मंत्री अर्जुन मुंडा से मिलेंगे और आदिवासी समाज के खिलाफ ऐसे दुष्प्रचार पर रोक लगाने की भी मांग करेंगे। साथ ही झारखंड के आदिवासी समाज राज्य में राखी सावंत के कोई कार्यक्रम भी नहीं होने देंगे। मालूम हो कि राखी सावंत अक्सर अपनी हरकतों व बयानों को लेकर चर्चे में रहती हैं।