कंगना रनौत 15 की उम्र में गई थी घर से भाग, आज है बॉलीवुड के सबसे महंगी एक्ट्रेस

बॉलीवुड के पंगा क्वीन कंगना रनौत (Kangana Ranaut) आज 35 साल (Kangana Ranaut Age) की हो गई है। कंगना रनौत का जन्म 23 मार्च 1987 को हिमाचल प्रदेश के मनाली में हुआ था। कंगना रनौत वैसे तो आज किसी पहचान की मोहताज नहीं है। आज उन्हें बॉलीवुड इंडस्ट्रीज की क्वीन (Bollywood Queen Kangana Ranaut) कहा जाता है, हालांकि यह बात अलग है कि इन दिनों वह क्वीन से लेकर कंट्रोवर्शियल क्वीन (Controversial Queen Kangana Ranaut) जैसे कई टाइटल अपने नाम कर चुकी है। कंगना रनौत अपने बेबाक बयानों और अपने दमदार अभिनय के चलते हमेशा सुर्खियों में बनी रहती हैं। कंगना ने अपना यह मुकाम और अपनी यह पहचान अपने दम (Kangana Ranaut Story) पर हासिल की है।

Kangana Ranaut

 

पंगा क्वीन कंगना का सफर

कंगना का जन्म भले ही एक छोटे से गांव में हुआ हो, लेकिन उनके सपने हमेशा बड़े ही रहे हैं… और कहते हैं ना जिसके सपने बड़े हो उसे कोई दीवार बांध नहीं सकती। कंगना रनौत पर यह बातें एकदम सटीक साबित होती है। कंगना रनौत की निजी जिंदगी भी कई उतार-चढ़ाव से भरी रही है। कंगना का जन्म हिमाचल प्रदेश के मंडी जिला के पास स्थित सूरजपुर में हुआ। कंगना के पिता अमरदीप रनोट बिजनेसमैन हैं और उनकी मां स्कूल में टीचर हैं। इसके साथ ही उनके दादा भारतीय प्रशासनिक सेवा में एक अधिकारी रह चुके हैं।

Kangana Ranaut

कंगना रनौत एक संयुक्त परिवार से ताल्लुक रखती हैं। उनकी बड़ी बहन रंगोली भी काफी जाना माना चेहरा है। कंगना ने अपने इंटरव्यू के दौरान अपनी जिंदगी से जुड़े कुछ राज से पर्दा उठाते हुए बताया था कि उनका जन्म हुआ तो उनके माता-पिता खुश नहीं थे। कंगना ने बताया कि उनकी बड़ी बहन के बाद एक बेटी के रूप में उनका जन्म होना परिवार की नाखुशी की वजह थी।

Kangana Ranaut

पिता ने देखा था कंगना को डॉक्टर बनाने का सपना

कंगना ने बताया कि उनके माता-पिता उन्हें डॉक्टर बनाना चाहते थे, लेकिन जब वह 12वीं की क्लास में फेल हो गई, तो उन्होंने एक्टर बनने का सपना देखा और घर छोड़कर दिल्ली आ गई। दिल्ली में रहकर उन्होंने थिएटर डायरेक्टर अरविंद गौर से एक्टिंग की ट्रेनिंग ली। इसके बाद कंगना रनौत इंडिया हैबिटेट सेंटर का हिस्सा बनीं और उन्होंने कई नाटकों में दमदार अभिनय करते हुए थिएटर से जुड़े लोगों के दिलों में अपनी जगह बनाई। उनका पहला प्ले गिरीश कर्नाड का रक्त कल्याण था।

 Kangana Ranaut

 

नहीं होते थे खाने के पैसे- कंगना

कंगना ने अपने इंटरव्यू के दौरान अपने स्ट्रगल के दिनों की कहानी बयां करते हुए बताया कि उन दिनों उनके पास पैसों की तंगी इतनी ज्यादा थी, कि कई बार उन्हें सिर्फ ब्रेड या रोटी अचार ही खाकर रहना पड़ता था। क्योंकि वह घर छोड़ कर आई थी और उन्हें उनके पिता से आर्थिक सहायता नहीं मिलती थी। कंगना ने बताया कि उनके पिता कभी नहीं चाहते थे कि वह फिल्मों में काम करें। ऐसे में दोनों के रिश्ते में उन दिनों लगातार खटास बढ़ती गई। हालांकि साल 2007 में कंगना की तीसरी फिल्म लाइफ इन मेट्रो आई, तो इस फिल्म के बाद कंगना के घर वालों ने उनसे दोबारा बात करना शुरू कर दिया।

Kangana Ranaut First Movie

इस तरह मिली थी कंगना को पहली फिल्म

कंगना रनौत ने अपनी पहली फिल्म सिलेक्शन को लेकर भी खुलासा किया था। कंगना ने बताया कि 2005 में डायरेक्टर अनुराग बसु ने कंगना को एक कैफे में कॉफी पीते हुए सपोर्ट किया था। इस दौरान ही उन्होंने उन्हें फिल्म का ऑफर दिया। कंगना ने 2006 में फिल्म गैंगस्टर में काम करते हुए अपने बॉलीवुड करियर की शुरुआत की थी। गैंगस्टर फिल्म के लिए उन्हें बेस्ट एक्ट्रेस अवॉर्ड भी मिला था। इसके बाद कंगना का शुरू हुआ सफर आज बुलंदियों को छू रहा है।

Kangana Ranaut

बॉलीवुड की सबसे मंहगी एक्ट्रेस है कंगना

कंगना रनौत बॉलीवुड की उन चुनिंदा अभिनेत्रियों में से हैं, जिन्हें नेशनल अवार्ड एक नहीं बल्कि 3 बार मिल चुका है। इसके अलावा कंगना रनौत को पद्मश्री जैसे सर्वोच्च पुरस्कार से भी नवाजा जा चुका है। बता दे कंगना की फिल्म फैशन, क्वीन, तनु वेड्स मनु रिटर्न, पंगा और मणिकर्णिका द क्वीन ऑफ झांसी के लिए बेस्ट एक्ट्रेस का अवार्ड भी मिल चुका है। मालूम हो कि कंगना बॉलीवुड इंडस्ट्री की सबसे महंगी एक्ट्रेस मानी जाती है। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक कंगना एक फिल्म के लिए 12 करोड़ रूपये चार्ज करती है।