IND vs NZ T20 : सैलरी के मामले मे टीम इंडिया के सामने फीकी है न्यूजीलैंड की टीम, अंतर देख जाएगें चौक

IND vs NZ T20 Series: भारत और न्यूजीलैंड के बीच तीन मैचों की टी-20 श्रृंखला आज यानी 18 नवंबर से शुरू हो रही है। इस कड़ी में दोनों टीमों के बीच पहला मुकाबला वेलिंगटन के स्काई स्टेडियम में खेला जाएगा। टी-20 वर्ल्ड कप के सेमीफाइनल से लौटी इंडियन टीम इस बार जीत के लक्ष्य को लेकर न्यूजीलैंड के खिलाफ इस सीरीज में जबरदस्त प्रदर्शन करने का मन बना चुकी है। हालांकि यह बात अलग है कि इस बार रोहित शर्मा की जगह टीम की कप्तानी की कमान हार्दिक पांड्या संभाल रहे हैं। विराट कोहली, रोहित शर्मा के साथ-साथ इंडियन क्रिकेट टीम के हेड कोच राहुल द्रविड़ को भी इस दौरे से रेस्ट दिया गया है।

भारत और न्यूजीलैंड के खिलाड़ियों की सैलरी में अंतर (India And New Zealand Player Salary)

जब भी भारत और न्यूजीलैंड के बीच कोई सीरीज शुरू होती है, तो इस दौरान दोनों देशों के खिलाड़ियों की सैलरी की चर्चा भी हमेशा सुर्खियों में आ जाती है। दरअसल यह सच है कि दोनों टीमों के खिलाड़ियों की सैलरी और मैच फीस में काफी बड़ा अंतर है। जहां एक ओर भारतीय खिलाड़ियों को एक टेस्ट मैच के लिए 15 लाख रुपए और वनडे के लिए 6 लाख रुपए, टी-20 मैच खेलने के लिए 3 लाख रुपए मिलते हैं। इसके अलावा अगर कोई खिलाड़ी प्लेइंग-11 का पार्ट नहीं है, तो भी उसे इन फीस का 50% का हिस्सा दिया जाता है।

वहीं बात न्यूजीलैंड के खिलाड़ियों की करें तो बता दें कि इन्हें एक टेस्ट मैच के लिए 5.13 लाख रुपए, एक वनडे मैच के लिए 2 लाख रुपए, एक टी-20 मैच के लिए 1 लाख 25 हजार रुपए मिलते हैं। ऐसे में आप खुद ही इन टीमों के खिलाड़ियों के बीच की सैलरी और मैच फीस के अंतर का अंदाजा लगा सकते हैं।

क्या होता है सेंट्रल कॉन्ट्रैक्ट

इसके अलावा न्यूजीलैंड क्रिकेट बोर्ड ने अपने खिलाड़ियों के साथ सेंट्रल कॉन्ट्रैक्ट साइन करती है, जिसके मुताबिक न्यूजीलैंड के टॉप रैंक प्लेयर जैसे केन विलियमसन को 2.62 करोड़ रुपए मिलते हैं। वही इसकी तुलना में बात इंडियन टॉप रैंक खिलाड़ी विराट कोहली, जसप्रीत बुमराह, रोहित शर्मा जैसे प्लेयर्स की करें तो बता दें कि इनका सैलरी पैकेज 7 करोड़ रुपए का होता है। कांटेक्ट्रेक लिस्ट में शामिल कीवी खिलाड़ियों की न्यूनतम सैलरी 3,67,196 रुपए होती है।

ये हैं न्यूजीलैंड के टॉप रैंक खिलाड़ी

न्यूजीलैंड क्रिकेट बोर्ड ने अपने टॉप रैंक के 20 खिलाड़ियों को सेंट्रल कॉन्ट्रैक्ट दिया हुआ है। इसकी टॉप लिस्ट में टॉम ब्लंडेल, माइकल ब्रेसवेल, ग्लेन फिलिप्स, मिशेल सेंटनर, ईश सोढ़ी, मैट हेनरी, काइल जेमिसन, टॉम लैथम, डेरिल मिचेल, डेवोन कॉन्वे, लॉकी फर्ग्यूसन, मार्टिन गप्टिल, हेनरी निकोल्स, विल यंग, फिन एलेन, ब्लेयर टिकनर, एजाज पटेल,  टिम साउदी, नील वैगनर और केन विलियमसन  का नाम शामिल हैं।

28 इंडिन खिलाड़ी सेंट्रल कॉन्ट्रैक्ट्स लिस्ट में शामिल

दूसरी ओर भारतीय क्रिकेट नियंत्रण बोर्ड (BCCI) की ओर से भी हर साल खिलाड़ियों की सेंट्रल कॉन्ट्रैक्ट लिस्ट जारी की जाती है। हर साल बोर्ड की ओर से इसमें कुछ नाम जोड़े और कुछ काटें जाते है। इस साल बोर्ड ने कुल 28 खिलाड़ियों को ग्रेड A+, ग्रेड A, ग्रेड B और ग्रेड C में बांटा है. A+ के खिलाड़ियों को 7 करोड़, ग्रेड A के खिलाड़ियों को 5 करोड़, ग्रेड B के खिलाड़ियों को 3 करोड़ और ग्रेड C के खिलाड़ियों को 1 करोड़ रुपये के सालाना सैलरी पैकेज के साथ लिस्ट किया है।

  • ग्रेड ए+ (7 करोड़ रुपये): विराट कोहली, रोहित शर्मा, जसप्रीत बुमराह।
  • ग्रेड ए (5 करोड़ रुपये): अजिंक्य रहाणे, चेतेश्वर पुजारा, हार्दिक पांड्या, इशांत शर्मा, केएल राहुल, मोहम्मद शमी, शिखर धवन, ऋषभ पंत, रवींद्र जडेजा, रविचंद्रन अश्विन।
  • ग्रेड बी (3 करोड़ रुपये): भुवनेश्वर कुमार, उमेश यादव, रिद्धिमान साहा, मयंक अग्रवाल, शार्दुल ठाकुर।
  • ग्रेड सी (1 करोड़ रुपये): अक्षर पटेल, दीपक चाहर, हनुमा विहारी, कुलदीप यादव, शुभमन गिल, वाशिंगटन सुंदर, मोहम्मद सिराज, नवदीप सैनी, श्रेयस अय्यर, युजवेंद्र चहल।

गौरतलब है कि बीसीसीआई की ओर से साइन किए गए इस खास सेंट्रल कांटेक्ट में शामिल इन 28 खिलाड़ियों को ये पैकेज फिक्स तौर पर मिलता है चाहे वह मैच खेले या ना खेले उनका यह पैकेज फिक्स होता हैं।