सरकार ने माफ किए 2 साल का बिजली बिल, जिसने भर दिए उन्हें वापस मिलेगा उनका पैसा

बिजली उपभोक्ताओं (Electricity Consumer) के लिए एक बड़ी खुशखबरी सामने आई है, जिसके मद्देनजर अप्रैल से 31 अगस्त 2020 तक के सभी बिजली बिलों को माफ (Electricity bills Waived) करने का फैसला मध्यप्रदेश सरकार ने किया है। ऐसे में जिन लोगों ने बिल भर दिए हैं उन्हें भी उनका पैसा वापस मिल जाएगा, यानी उस पैसे को अगले बिल में एडजस्ट यानी समायोजित किया जाएगा। गौरतलब है कि शिवराज सरकार (Shivraj Government) ने उन सभी उपभोक्ताओं को बड़ी राहत दी है, जिनका बिजली बिल (Electricity Bill) कोरोना काल से बकाया था।

Electricity bills Waived

सरकार ने माफ किए बिजली बिल

याद दिला दें लंबे समय से बकाया पड़े बिलों को लेकर बिजली कंपनी द्वारा बाद में समायोजन योजना के मद्देनजर छूट देकर उन बिलों को भरवाया गया था, लेकिन अब इन बिलों को माफ कर दिया गया है। खास बात यह है कि जिन उपभोक्ताओं ने अपने इन बिजली बिलों को जमा कर दिया था, उनके द्वारा भरी गई राशि उनके आगे के बिलों में एडजस्ट की जाएगी। सीधे तौर पर सरकार ने अप्रैल 2020 से 31 अगस्त 2020 तक के सभी बिजली बिलों को माफ करने का फैसला किया है।

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने इस बात की घोषणा खुद विधानसभा में की है, जिसके मद्देनजर मध्य प्रदेश के 88 लाख घरेलू उपभोक्ताओं का करीब 6400 का बिजली बिल माफ कर दिया गया है। सरकार ने उपभोक्ताओं को बड़ी राहत देते हुए बिजली बिल माफ कर बड़ी सौगात दी है। वही इस कड़ी में उपभोक्ताओं के मन में यह भी सवाल उठ रहे हैं कि आखिर जिन लोगों ने बिजली बिल पहले से जमा कर दिए हैं, उनका क्या होगा। ऐसे में बता दें कि मध्य प्रदेश के करीब 12 लाख घरेलू उपभोक्ता है, जिन्होंने 1 किलोवाट तक का कनेक्शन ले रखा है। उन्हें इसका फायदा मिलेगा।

Electricity bills Waived

आर्थिक हालातों को देखते हुए लिया फैसला

इसके मद्देनजर करीब 88 लाख उपभोक्ताओं को अप्रैल 2020 से 31 अगस्त 2020 तक के सभी बिजली बिल माफ किए जाएंगे। इस संबंध में सरकार की ओर से जल्द ही आदेश भी जारी कर दिया जाएगा। इस बात का खास तौर पर ध्यान रखें कि कोरोना काल यानी अप्रैल 2020 से 31 अगस्त 2020 तक जिनके बिल बकाया थे उन्हें वसूलने के लिए समाधान योजना लागू की गई थी, जिसके तहत 25 से 40% की छूट देकर उपभोक्ताओं से उनके बिजली बिल भरवाए गए थे क्योंकि महामारी के दौरान वैसे ही लोगों की आर्थिक स्थिति कमजोर हो गई थी। ऐसे में शिवराज सरकार ने अब यह बड़ा फैसला लेते हुए बिजली उपभोक्ताओं को बड़ी सौगात दी है और उनके बिल माफ करने का फैसला किया है।