कोरोना और लॉक डाउन से निपटने के लिए मुख्यमंत्री योगी जी ने उठाया ये बड़ा कदम

कोरोना जहां भारत में तेजी से फैलता जा रहा है. उसके चलते 21 दिनों के क्लॉक डाउन हो जाने के कारण कई लोगों के बिच परेशानियां खड़ी हो गई है। कुछ लोग ऐसे भी थे मजदूरी करते थे और इस लॉक डाउन के कारण उनको खाने पर आफत आ गई है।

इसी के चलते उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने एक बड़ा फैसला लिया है। योगी आदित्यनाथ ने परेशान लोगों के लिए घर पर ही सारी सुविधा प्रदान करने के लिए 11 लोगों की एक टीम बनाई है और इनका नाम टीम -11 रखा गया है।

योगी सरकार के मंत्री बृजेश पाठक इन लोगों के लिए घर पर ही एक कंट्रोल रूम बनाया है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ अध्यक्षा में 11 समितियों का गठन किया गया। इस समिति में अलग-अलग विभागों के प्रमुख सचिव एवं कई अधिकारी शामिल हैं।

यह टीम इस लॉक डाउन के दौरान आवश्यक सामान को पहुंचाने तथा सुविधाएं प्रदान करने तथा मॉनिटरिंग का भी काम करेगी।हरएक 3 दिन पर यह टीम  सीएम योगी जी को इसका रिपोर्ट देगी।

बता दें कि इस लॉकडाउन में कई लोग बेरोजगार हो गए हैं।कई मजदूर लोग के इस बेरोजगारी के कारण पैदल ही घर आने की वीडियो सामने आई थी। इसके अलावा कई मजदूरों के भूखे रहने की भी खबर आई थी।

इसको लेकर यह टीम बनाई गई है यह टीम सारे परेशान लोगों को उनके घर पर ही मदद करेगी। कैबिनेट मंत्री बृजेश पाठक अपने घर पर ही बने कंट्रोल रूम से इन सब का मॉनिटर करेंगे। कोई व्यक्ति जिन्हें भोजन, रुकने में परेशानी,दवाइयां यदि कोई परेशानी हो उनके पास मदद पहुंचाई जाएगी।

इस कंट्रोल रूम के शुरू होते ही कई कॉल आने शुरू हो गए और इस कंट्रोल रूम के लोग उस समस्या का निपटारा करने में लगे हुए हैं।