छतीसगढ़ मे शहीद हुए जवानो को दी गयी श्रद्धाजली,परिजनो का रोकर है बुरा हाल

शनिवार को छत्तीसगढ़ के सुकमा में नक्सलियों के सर्च के दौरान शहीद हुए 17 जवान को आज मुख्यमंत्री भूपेश बघेल, गृह मंत्री राम ध्वज ने श्रद्धांजलि दी.श्रद्धांजलि देते समय मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की आंखें नम हो गई उन्होंने कहा कि जवानों की यह शहादत बेकार नहीं जाएगी नक्सलियों को हम उखाड़ फेंकेगे।

Image Source Google

आगे उन्होंने कहा कि हम जवानों के इस हौसले को सलाम करते हैं उनकी शहादत हमेशा याद रखी जाएगी जब तक हम नक्सली को जड़ से नहीं उखाड़ देंगे यह लड़ाई जारी रहेगी।

उन्होंने यह भी कहा कि 17 जवान शहीद होने से भारी नुकसान हुई है। इंटेलिजेंस से कहीं चूक होने के कारण ही नक्सलियों ने घेर कर हमारे जवानों को मार गिराया।

Image Source Google

वहीं परजनों को रोककर रो-रोकर बुरा हाल है। जवानों की मां ,उनकी पत्नी, बहन, बेटी सारे लोग को संभालना मुश्किल हो रहा है। एक साथ इतने जवानों के शव देखकर हर किसी का धैर्य समाप्त हो जा रहा है।सभी की आंखों से आंसू से भर जा रही है।

जवानों का शव सोमवार को जिला मुख्यालय पुलिस लाइन में लाया गया था।यहां पर उनके अंतिम सलामी दी गई। बस्तर के आईजी सुंदर राज ने सहित कई उच्च अधिकारियों ने जवानों के को कांधा दिया।

Image Source Google

बता दें कि सुकमा में इस पुलिस टीम को कुछ नक्सलियों के छिपे होने की जानकारी प्राप्त हुई थी।इसके लिए 550 जवान उन नक्सलियों के सर्चिंग के लिए निकले थे क्योंकि इंटेलिजेंस नक्सलियों के सक्रिय टॉप लीडर हिरमा,नागेश और कई सारे भरे नक्सलियों के छुपे होने की बात आई थी। जब जवान सर्चिंग से लौट रहे थे उसी समय यह चारों ओर से घिर गए और करीब 5 घंटे की मुठभेड़ चलने के बाद 17 जवान लापता हो गए बाद में इन सभी का बॉडी बाद मे रिकवर हो पाई