खुशखबरी,1 जून से चलने वाली 200 ट्रेनों की बुकिंग हुई आज शुरू,जाने पूरी डिटेल

इंडियन रेलवे आज से 1 जून से चलने वाली 200 ट्रेनों की बुकिंग शुरू कर दी है.1 जून से 200 ट्रेनों को चलाने का फैसला लिया गया है. इन 200 ट्रेनों की अग्रिम बुकिंग आज से शुरू कर दी गई है. इन ट्रेनों के लिए बुकिंग आज 21 मई से सुबह 10:00 बजे से होगी. यह ट्रेनों वर्तमान में चल रही हूं श्रमिक स्पेशल ट्रेनों से बिल्कुल ही अलग होगी .इन ट्रेनों में आप तत्काल और प्रीमियम टिकट नहीं करा सकते हैं. इसके साथ ही यात्री कंफर्म टिकट होने पर ही यात्रा कर सकते हैं.

चलने वाली 200 ट्रेनों मे होगी ये बोगिया

टिकट की पूरी बुकिंग रेलवे की आधिकारिक वेबसाइट से की जा सकती है.1 जून से चलने वाले इन ट्रेनों में हर एक प्रकार की कोचिंग होंगे.इन ट्रेनों में AC1,AC2,AC3 और स्लीपर के साथ-साथ जनरल बोगी भी होंगे.परंतु इन जनरल बोगी में भी यात्री को कंफर्म टिकट लेना पड़ेगा. ट्रेन की कोई भी बोगी अनारक्षित नहीं होगी. सभी सीट के लिए टिकट बुकिंग की जाएगी ताकि यात्रियों के बीच दूरी बनी रहे.

जनरल कोच के लिएसेकंड स्लीपर का किराया

इन 200 दिनों के लिए रेलवे ने सामान्य किराया रखा है. रेलवे ने जनरल कोच के लिए अनारक्षित नहीं होने के कारण इसमें सेकंड स्लीपर का किराया रखा है. इसमें यात्रियों को सीट दी जाएगी. सेकंड स्लीपर का किराया स्लीपर से कुछ काम होता है.

अफरीदी के मोदी पर आपत्तिजनक टिप्पणी करने पर भड़के जावेद अख्तर बोले..

इंडियन रेलवे द्वारा चलाई जाने वाली 100 ट्रेनों ( अप और डाउन मिलाकर 200 होंगी) देश के अलग-अलग हिस्सों में जाएगी. भारतीय रेलवे द्वारा श्रमिक स्पेशल ट्रेन चलाने के बाद इन 200 ट्रेनें चलाने की पर लोगो को भारी राहत मिलेगी.

जून से चलने वाली 200 ट्रेनों की पूरी लिस्ट

1 जून से चलने वाली 200 ट्रेनों की पूरी लिस्ट
1 जून से चलने वाली 200 ट्रेनों की पूरी लिस्ट
1 जून से चलने वाली 200 ट्रेनों की पूरी लिस्ट
1 जून से चलने वाली 200 ट्रेनों की पूरी लिस्ट

स्टेशन पर कैंटीन भी खुलेगे

रेलवे बोर्ड ने स्टेशन पर कैंटीन और सही प्रकार के स्टॉलो को खोलने की भी अनुमति दे दी है. रेलवे के द्वारा आईआरसीटीसी और जोनल रेलवे को पत्र भेजे गए है. इसमे यह स्पष्ट कर दिया गया है कि जिन भी रेलवे स्टेशनों पर फूड प्लाजा और रिफ्रेशमेंट ज़ोन चल रहा है,उन्हें तत्काल खोल दिया जाए. हालांकि इन फूड स्टॉल पर यात्रियों को बैठाकर खाना नहीं खिलाया जाएगा.

15 साल की बेटी ने घायल पिता को साइकिल पर बिठाकर गुरुग्राम से लायी बिहार