कल जहाँ सारा देश कोरोना से लड़ रहा था वही नक्सलियो से लड़ते हुए 17 जवान शहीद

कल जहां सारा देश महामारी करुणा से लड़ने के लिए अपने अपने घरों में बैठे हुए थे वही देश के वीर जवान भारतीय सेना नक्सलियों की खोज में जंगलों में भटक रही थी.

इसी सर्च ऑपरेशन के दौरान छत्तीसगढ़ के सुकमा में नक्सलियों ने सुबह घात लगाकर भारतीय सेना पर हमला कर दिया जिसमें से भारतीय जवान के 17 सैनिक शहीद हो गए। 14 जवान के घायल होने की भी बात सामने आई है।घायल होने वाले जवानों में से एसटीएफ और डीआरजी के भी जवान शामिल है।

Image Source Google

प्राप्त सूचना के अनुसार घायल जवानों को हेलीकॉप्टर की मदद से रायपुर ले आया गया है बताया गया कि बस्तर जिला मे इतना बड़ा नुकसान पहली बार हुआ है। घायल 17 जवानों में से 12 जवान डी आर जी के हैं, डीआरजी का जवान स्थानीय युवकों द्वारा बनाया जाता है जो कि नक्सल से लड़ाई करने में काफी मददगार सिद्ध हुआ है।

Image Source Google

बस्तर आईजी सुंदर्राज जी ने बताया कि शनिवार को जंगलों में सीआरपीएफ,डीआरजी और एसटीएफ के संयुक्त सर्च ऑपरेशन के दौरान यह घटना घटी है।

जब यह पार्टी सर्च ऑपरेशन में जा रही थी तो उनका मुठभेड़ नक्सलियों के साथ हुआ। मुठभेड़ में 14 जवान घायल हुए जिन्हें तत्काल हेलीकॉप्टर की मदद से रायपुर ले आया गया।वहीं 17 जवान के लापता होने की खबर थी जिनहे रविवार की सुबह सर्च ऑपरेशन चलाने पर  इन सभी 17 जवानों के शव बरामद हुए।

इस तरह से घाटी घटना

Image Source Google

सीआरपीएफ के कोबरा,डीआरजी (डिस्टिक रिजर्व गार्ड) और स्पेशल टास्क फोर्स के जवान शनिवार को रात 2:30 बजे नक्सलियों के छिपे होने की खबर मिली थी जब यह टीम सर्च करते हुए इनके नजदीक पहुंची तो वहां पर घात लगाकर अचानक नक्सलियों ने इन पर हमला कर दिया।इस भारी हमला में अपने काफी सैनिक शहीद हो गए। कुछ नक्सलियों के मारे जाने की भी खबर है।