उत्तर भारत में भीषण गर्मी के साथ मंडराया असनी तूफान का साया, जानिए देश के मौसम का हाल

पिछले कई दिनों से देश भीषण गर्मी की मार झेल रहा है। देश का उत्तर- पश्चिमी भाग भीषण गर्मी की चपेट में है। देश कीराजधानी दिल्ली का तापमान करीब 36डिग्री तक पहुँच गया है । भारतीय मौसम विभाग (IMD) के अनुसार अगले 24 घंटे में तापमान में गिरावट के संकेत व्यक्त किए गए हैं। बता दें कि बंगाल की खाड़ी में लगातार निम्न दबाव का क्षेत्र बनता जा रहा है जिसके 22 मार्च को प्रबल होने की संभावना है,इसलिए मछुआरों को समुद्र में नहीं जाने की सलाह दी गई है। वहीं देश के पश्चिमी हिमालयी राज्यों में भी तापमान बढ़ गया है लेकिन आज हल्की बारिश की संभावना जताई गई है। भारतीय मौसम विभाग (IMD) की ओर से बंगाल की खाड़ी में लगातार निम्न दबाव का क्षेत्र बनने की वजह से असनी तूफान की आशंका जताई जा रही है।

असनी तूफान

क्या कहा मौसम विभाग ने??

 

भारतीय मौसम विभाग ने कहा है कि उत्तर पश्चिम भारत में अगले 24 घंटे के दौरान तापमान में करीब 2 डिग्री सेल्सियस की कमी आने की संभावना है। हालांकि देश के बाकी हिस्सों में गर्मी का प्रकोप जारी रहेगा। मौसम विभाग ने कहा है कि  20 मार्च को पश्चिमी हिमालयन क्षेत्रों में हल्की बारिश और बर्फबारी का अनुमान के साथ ही कही-कहीं ओलावृष्टि और बिजली गिरने की भी आशंका है।

वहीं बात करें  केरल, तमिलनाडु, पुड्डुचेरी, कर्नाटक, आंध्र प्रदेश के तटीय इलाकों, रॉयलसीमा की तो वहां अगले पांच दिनों तक हल्की बारिश की संभावना जताई गयी है। आईएमडी ने कहा है कि बंगाल की खाड़ी में बन रहा निम्न दबाव का क्षेत्र  पूर्व-उत्तर पश्चिम दिशा की ओर बढ़ रहा है जिसके 21 मार्च को चक्रवातीय तूफान में बदलने की प्रबल आशंका है जो 22 मार्च को उत्तर और उत्तर पूर्व की दिशाओं की ओर बढ़ेगा। इस चक्रवातीय तूफान का नाम असनी (Asani) रखा गया है।

असनी तूफान

क्या है बांकी राज्यों के मौसम का हाल??

देश के बाकी हिस्सों की बात करें तो  शनिवार को राजस्थान के  जैसलमेर, चुरू, बीकानेर, बाड़मेर और पिलानी सहित पश्चिमी राजस्थान के अधिकांश हिस्सों में तापमान 40 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच गया। मौसम विभाग ने कहा है कि पश्चिमी राजस्थान में आज भी गर्मी अपना असर दिखाएगा और कहीं-कहीं लू के थपेड़ें भी चलेंगे। हालांकि बंगाल की खाड़ी में निम्न दबाव के कारण कल से लगभग पूरे भारत में गर्मी में कमी आने का पूर्वानुमान व्यक्त किया गया है।