मंत्री हो तो ऐसा: रोज साइकिल पर हो सवार करते है निरीक्षण,लोगो के बीच जा खुद लेते हैं फीडबैक !

ऐसे तो मंत्री जनता के सेवक कहे जाते हैं, परंतु आज कल के मंत्री एक राजा से कम नहीं होते. वहीं एक ऐसा उदाहरण सामने आया है जिसे सुन सब लोग काफी आश्चर्य कर रहे हैं। यह मंत्री सच में जनता के सेवक साबित हो रहे हैं। हम बात कर रहे हैं उत्तर प्रदेश के ऊर्जा मंत्री श्रीकांत शर्मा जी का। श्रीकांत शर्मा जी इन दिनों अपनी गाड़ी को साइड में रख एक साइकिल से लोगों के बीच जा रहे हैं।

उत्तर प्रदेश के ऊर्जा मंत्री श्रीकांत शर्मा जी रोज अपने साइकिल को उठाते हैं और रास्ते में पड़ने वाले बिजली विभागों के दफ्तरों का चक्कर लगा लेते हैं। इतना ही नहीं ये साइकिल से ही लोगों से बिजली विभाग से समस्याओं के बारे में उनका फीडबैक भी लेते हैं। इनका काम बेहद ही लोगों को पसंद आ रहा है।

अफसरो को भी ढूंढना पड़ता है साइकिल

ऊर्जा मंत्री श्रीकांत शर्मा जी सभी लोगों के बीच जाकर बिजली बचाने की अपील करते हैं तथा बकाया बिलों के भी भुगतान करने के लिए जागरूक करते हैं। उनके इस क्रांतिकारी और नए विचार से अफसरों की काफी दिक्कत आ रही है क्योंकि  इन अफसरो को भी साथ चलने के लिए साइकिल का ढूंढना पड़ता है।श्रीकांत शर्मा अपने साइकिल से ही अपने ऑफिस जाते हैं और रास्ते में आने वाले सभी बिजली विभाग के ऑफिसों का भी निरीक्षण कर लेते हैं।

लोगो के बीच जाने से विभाग को काफी फायदा

ऊर्जा मंत्री ने इस पर कहा कि लोगों के बीच जाने और बिजली का भुगतान करने की अपील करने से विभाग को काफी फायदा हुआ है।लगभग 1300 करोड़ का राजस्व प्राप्त हुआ है। बिजली बकाया बिल नहीं देने पर बिजली काटना है यह कोई उपाय नहीं है, हम उन लोगों के बीच जाकर उन्हें जागरूक करते हैं और किस्तों में भी बिल को भुगतान करने के लिए उन्हें सहयोग करते हैं।